उदयपुर : महिला को बंधक बनाकर मारपीट का वीडियो वायरल, तीन अरेस्ट

उदयपुर। राजस्थान में उदयपुर जिले में एक महिला की बेरहमी से लाठी से मारपीट करने का वीडियो वायरल होने का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए बुधवार को एक महिला सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

जिला पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि घटना का वीडिय सामने आने की घटना के मामले में गोगुन्दा थाना पुलिस ने अविलम्ब कार्रवाई कर मुकदमा दर्ज कर मात्र 15 घण्टे में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। शेष आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु दबिशें दी जा रही है। गिरफ्तार आरोपी तुलसी राम निवासी माचडा, केलवाडा, राजसमन्द एवं गोपी लाल एवं उसकी पत्नी गुलाबी बाई निवासी मचिन्दा, खमनोर जिला राजसमन्द है।

उन्होंने बताया कि मंगलवार को महिला को बंधक बना बेरहमी से मारपीट करने का वीडियो वायरल होने पर तुरन्त जानकारी कर मारुवास थाना गोगुन्‍दा निवासी परिवादी तुलसीराम से रिपोर्ट प्राप्त की गई। जिसमें उसने बताया कि करीब एक महीने पहले उसने माचडा थाना केलवाडा निवासी तुलसीराम की पत्नी पुष्पा के साथ नाता विवाह किया था। ओडा चौकी में पुष्पा ने अपने बयान में उसके साथ रहने की बात कही। उसके बाद हम दोनों पति-पत्नी हमारे गांव मारुवास में रह रहे थे।

11 जनवरी की रात करीब 10 बजे एक पिकअप में करीब 15 व्यक्ति भरकर आए। जिसमें पुष्पा का पहला पति तुलसी राम, उसके पिता वजेराम एवं फतेहपुर निवासी पुना राम जो उनके समाज का पंच है व अन्य उसके घर का दरवाजा तोड अन्दर घुसे ओर पूरा मकान तोड़कर उसके व पत्नी पुष्पा के साथ मारपीट करने लगे। जबरदस्ती दोनों के हाथ-पांव बांधकर पिकअप में डाल दिया।

उसकी नई मोटरसाईकिल को भी पिकअप में डाल कर उन्हें माचडा तुलसीराम के घर पर ले गए। जहां पर उन्हें रस्सी से बांध दिया। इसके बाद पुनाराम, तुलसीराम, वजेराम एवं पुष्पा की मॉ व अन्य लोगो ने मिलकर उन्हें बुरी तरह से लठ से मारा। दोनों को बांधकर सर्दी में घर के बाहर डाल दिया व लठ से मारपीट करते रहे।

पुनाराम मारपीट भी कर रहा था व सबको उकसा रहा था कि इन दोनों को नंगा करो एवं इनके लठ मारों। जिससे सभी व्यक्ति हमारे साथ मारपीट कर रहे थे। वहां पर किसी व्यक्ति ने हमारे साथ हो रही मारपीट का वीडियो भी बनाया है, जो वायरल कर दिया।

थानाधिकारी गोगुन्दा कमलेन्द्र सिंह मय टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए प्रकरण में मारपीट करने वाले अभियुक्तगण तुलसी राम, गोपी लाल व गुलाबी बाई को डिटेन कर गिरफ्तार किया गया है।