मुक्केबाज निखत जरीन के पिता ने भेदभाव का आरोप लगाया, मैरी पर बरसे

नई दिल्ली। एमसी मैरीकॉम से ओलम्पिक क्वालीफायर्स के लिए शनिवार को हुए 51 किग्रा वर्ग ट्रायल में 1-9 से हारने वाली तेलंगाना की मुक्केबाज निखत जरीन के पिता जमील अहमद ने इस मुकाबले में उनकी बेटी के साथ भेदभाव किए जाने का आरोप लगाया है।

जमील ने मुकाबला समाप्त होते ही अपनी जगह खड़े खोकर अपना विरोध जताया और मैरी पर बरस पड़े। जमील ने बाद में पत्रकारों से कहा कि इस मुकाबले में उनकी बेटी जीती थी लेकिन उसके साथ भेदभाव कर मैरी को विजेता बनाया गया। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि निखत को जानबूझ कर हराया गया जबकि सबने अपनी आंखों से देखा कि निखत जीती थी।

तेलंगाना मुक्केबाजी संघ के सहायक सचिव एपी रेड्डी ने भी कहा कि तेलंगाना की लड़की जीती थी लेकिन मैरी को सीनियर होने और राज्यसभा सांसद होने के कारण जिताया गया। उन्होंने कहा कि हम इस मुद्दे को आईबा के समक्ष उठाएंगे और उन्हें इस मुकाबले की रिकॉर्डिंग देखने के लिए कहेंगे। मैं पूछना चाहता हूं कि मैरी आखिर कब तक सीनियर बनी रहेगी।