अमित शाह बोले, पीएम और मेरी तरह 18 घंटे काम करने की आदत डालें कार्यकर्ता

work 18 hours a day, says Amit Shah to bjp workers in poll bound rajasthan
work 18 hours a day, says Amit Shah to bjp workers in poll bound rajasthan

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने देश के उन्नीस राज्यों में भाजपा की जीत को अधूरी बताते हुए कहा है कि पश्चिम बंगाल, उड़ीसा, आंध्रप्रदेश, तेंलगाना, केरल, तमिलनाडु एवं कनार्टक को नहीं जीत लिया जाता तब तक पार्टी की जीत पूरी नहीं होगी।

शाह आज यहां भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि पंचायत से संसद तक पचास साल तक हमारी विजय हो, ऐसी आदत डालनी होगी।

उन्होंने कहा कि देश के सत्तर प्रतिशत भू-भाग और 19 राज्यों में भाजपा ने जीत दर्ज की है। उन्होंने कहा कि पार्टी स्थापना के समय सिर्फ दस सदस्य थे और आज यह ग्यारह करोड़ सदस्यों की विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। आजादी के बाद पहली बार किसी गैर कांग्रेसी दल को इतना बड़ा प्रचण्ड बहुमत मिला है, वह नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा को मिला है।

उन्होंने वर्ष 2019 में होने वाले चुनाव को महत्वपूर्ण पड़ाव बताते हुए कहा कि इसे हम जीतेंगे, इस जीत के बाद आगे हमें कोई रोक नहीं सकता। राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में हमारे संगठन की सबसे पुरानी ईकाईयां हैं, जहां विजय की सबसे पहले शुरूआत हुई। इस बार भी इन तीनों राज्यों में हम सरकार बनाएंगे और उसके बाद लोकसभा में जीतकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को फिर प्रधानमंत्री बनाएंगे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती है कि एंटीइनकमबेंसी है, शायद कांग्रेस भूल गई कि भाजपा कार्यकर्ताओं को सौ एंटीइनकमबेंसी को घोलकर पीना आता है। उन्होंने कहा कि जिस कार्यकर्ता में जोश और जज्बा नहीं है, उसके लिए चुनावी युद्ध में कोई जगह नहीं होती। हम सबका एक ही लक्ष्य होना चाहिए कि सब 18 घंटे काम करें, यदि देश के प्रधानमंत्री और भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष अठारह घंटे काम कर सकते हैं तो आप क्यों नहीं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस भाजपा का मुकाबला नहीं कर सकती। कांग्रेस का सगठनात्मक ढांचा खत्म हो गया है। अब तो कांग्रेस में भ्रष्टाचारियों का जमघट बचा है। उन्होंने कहा कि वह राजस्थान के सभी शक्ति केन्द्रों के अध्यक्षों से सीधी बात करेंगे।

उन्होंने कहा कि पार्टी में इधर-उधर की बात करने वालों को कोई जगह नहीं। हमें चुनाव जीतना है, ऐसे लोग काम करना चाहे तो करें अन्यथा उनके लिए पार्टी में कोई स्थान नहीं है।