दुनिया के 5 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर

World 5 largest Hindu temples
World 5 largest Hindu temples

SABGURU NEWS | भारत में मंदिरों की महत्ता और उनके प्रति आस्था को गली-गली में देखा जा सकता हैं। हिन्दू धर्म में मंदिर को सबसे पवित्र स्थान माना जाता हैं। लोगों की आस्था को देखते हुए भारत में कई मंदिर बने हुए हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत के बाहर भी पूरे विश्वभर में कई मंदिर बने हुए हैं और वे बहुत प्रसिद्द हैं। आज हम आपको दुनिया के सबसे बड़े हिन्दू मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं। तो आइये जानते हैं इन हिन्दू मंदिरों के बारे में।

थिल्लई नटराज मंदिर : तमिलनाडु के चिदंबरम में स्थित यह शिव मंदिर जिसे ‘चिदंबरम मंदिर’ भी कहा जाता है, बहुत विशाल है। इसी कारण यह एक प्रसिद्ध तीर्थस्थल बन गया है। इसका क्षेत्रफल लगभग 1,60,000 वर्गमीटर है।

Belur Math
Belur Math

: यह मठ कलकत्ता में हुगली नदी के किनारे स्वामी विवेकानंद द्वारा बनवाया गया था। यहाँ माँ आद्याकाली की पूजा होती है। यह 1,60,000 वर्गमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है।

Ankorwat Temple
Ankorwat Temple

अंकोरवाट मंदिर : कंबोडिया का अंकोरवाट मंदिर न केवल हिंदू धर्म वरन पूरी दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक स्थल माना जाता है। इसे 12वीं सदी में राजा सूर्यवर्मन द्वितीय ने बनवाया था। यह मंदिर मुख्यतः भगवान विष्णु को समर्पित हैं परन्तु यहां बौद्ध धर्म का भी खासा प्रभाव देखने को मिलता है। कुल 8,20,000 वर्गमीटर क्षेत्रफल में बने इस मंदिर को यूनेस्को ने भी अपनी विरासत में सहेजा है।

Sri Ranganath Swami (Srirangam) Temple
Sri Ranganath Swami (Srirangam) Temple

श्री रंगनाथ स्वामी (श्रीरंगम) मंदिर : यह भारत का सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर है, जो तमिलनाडु के त्रिची नामक स्थान पर स्थित है। यह विष्णु मंदिर लगभग 6,31,000 वर्गमीटर के क्षेत्र में स्थित है। यह इतना विशाल है कि एक पूरा शहर इसमें बसा हुआ है।

Akshardham Temple
Akshardham Temple

अक्षरधाम मंदिर : आधुनिक समय में बनाए गए मंदिरों में दिल्ली का अक्षरधाम (अथवा स्वामीनारायण) मंदिर अपने आप में बहुत खास है। इस मंदिर को कुल 2,40,000 वर्गमीटर क्षेत्रफल में बनाया गया है। मंदिर को देखने के लिए देश-विदेश से हर वर्ष लाखों पर्यटक दिल्ली आते हैं।