उत्तर प्रदेश में एक करोड़ छात्रों को मिलेंगे स्मार्ट फोन,लैपटाप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के एक करोड़ छात्रों के लिए तमाम सुविधाएं देने की घोषणा की है।

विधानसभा में अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान सदन को संबोधित करते हुए योगी ने गुरूवार को कहा कि उनकी सरकार स्नातक, परास्नातक और डिप्लोमा कोर्स कर रहे छात्र छात्राओं को स्मार्ट फोन और लैपटाप उपलब्ध कराएगी। इसके लिए बजट में तीन हजार करोड़ रूपए का प्राविधान किया गया है। इसके अलावा प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने वाले विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षा भत्ता और स्कालरशिप प्रदान की जाएगी।

उन्होने कहा कि प्रदेश के 28 लाख सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को एक जुलाई 2021 से 11 फीसदी बढोतरी के साथ 28 फीसदी महंगाई भत्ता दिया जाएगा। एक बडी घोषणा के तहत मुख्यमंत्री ने कहा कि माफिया के कब्जे से मुक्त कराई गई जमीन पर गरीब और जरूरतमंदों के लिए मकान बनाए जाएंगे।

संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री ने विपक्ष पर तीखा हमला करते हुए कहा कि कोरोना के कठिन समय में जब समूची सरकार सड़क पर थी और लोगों की सेवा कर रही थी, उस समय विपक्ष के नेता घरों में आराम फरमा रहे थे। सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होने कहा कि हम बगैर भेदभाव के सरकार की योजनाओं को समाज के हर वर्ग तक पहुंचा रहे हैं। योगी ने कहा कि यह पहली महामारी थी जब भूख के कारण किसी गरीब ने दम नहीं तोड़ा। विपक्ष ने गरीबों को मुफ्त राशन वितरण में भी आपत्ति जताई थी।

कोरोना काल में फील्ड कर्मचारियों के योगदान की सराहना करते हुए उन्होने एक ओर जहां रोजगार सेवकों, पीआरडी जवान, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, मिनी आंगनबाड़ी व सहायिकाओं, रोजगार सेवकों आदि अल्प मानदेय वाले कार्मिकों के मानदेय में बढ़ोतरी की घोषणा की, वहीं प्रदेश सरकार के 16 लाख कर्मचारियों और 12 लाख पेंशनधारकों की बहुप्रतीक्षित मुराद पूरी करते हुए 11 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ उनके मंहगाई भत्ते को बहाल करने का भी ऐलान किया।

एक घंटे से कुछ अधिक समय तक सदन को संबोधित करते हुए उन्होने युवाओं से कहा कि नए युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है, समूचा जग युवा पीढ़ी तुम्हारे हाथ में है। प्रबल फौलाद सच मानो तुम्हारे गात में है, नए युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है। सफलता तो तुम्हारी बात में है जज्बात में है,नए युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है।

युवाओं को डिजिटल तकनीक में सक्षम बनाने का इरादा जताते हुए उन्होंने कहा कि स्नातक, परास्नातक, इंजीनियरिंग, डिप्लोमा आदि पाठ्यक्रमों के एक करोड़ युवाओं को टैबलेट/स्मार्टफोन देने के साथ ही मुफ्त में डिजिटल एक्सेस भी मुहैया कराया जाएगा।

प्रतियोगी परीक्षा भत्ता की घोषणा करते हुए योगी ने कहा कि सरकार, प्रतियोगी परीक्षा के लिए जाने वाले हर युवा को तीन बार भत्ता देगी। यह फैसला विधायकों की भावनाओं, युवाओं की जरूरतों और अभिभावकों को बड़ी राहत देने वाला होगा।