आतंकवाद के चलते पाकिस्तान से बातचीत संभव नही : योगी आदित्यनाथ

Yogi says Talking to Pakistan due to terrorism is not possible
Yogi says Talking to Pakistan due to terrorism is not possible

बलरामपुर । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत की विदेश नीति को देश हित में बताते हुये कहा कि आतंकवाद की शरण स्थली पाकिस्तान से ऐसे हालातों में बातचीत नही हो सकती है।

योगी ने शुक्रवार को बलरामपुर के तुलसीपुर क्षेत्र के भवनियापुर स्थित आदि शक्ति मां पाटेश्वरी पब्लिक स्कूल परिसर में थारू जनजाति के लिये विशेष छात्रावास का शिलान्यास करते हुये कहा कि हमारी विदेश नीति देश हित में है। भारत सरकार अपनी विदेश नीति के मामले में अडिग है। आतंकवाद और बातचीत एक साथ संभव नही है। पाकिस्तान पहले आतंकवाद बंद करे उसके बाद बातचीत का रास्ता खुल सकता है।

आतंकवाद पर पाकिस्तान को खरी खोटी सुनाते हुये कहा कि यदि आतंकियो को पनाह देना और आतंकवाद बंद नही करेगा तो भारत के साथ उसकी बातचीत संभव नही है। उन्होने कहा कि पाकिस्तान की नापाक हरकतों का मुंहतोड़ जवाब देता रहेगा। कांग्रेस पर निशाना साधते हुये उन्होने कहा कि पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के इस चेहरे को उन्हे देखना चाहिये

उन्होने कहा कि प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकार पड़ोसी देश नेपाल की सीमावर्ती इलाको के समग्र विकास के लिये युद्धस्तर पर कार्य करा रही है। प्रदेश में आजादी के बाद भी करीब 70 वर्षो से बिजली , पानी , सड़क , शिक्षा और आधुनिक तकनीकी से वंचित वनवासियों के लिये विकास के नये आयाम स्थापित किये गये है। पिछड़ेपन की मार झेल रही थारू जनजाति के गरीब परिवारो को सरकार जनकल्याणकारी योजनाओ के माध्यम से बिजली , पानी , सड़क और शिक्षा सुविधाओं को मुहैया कराने के अलावा के साथ भारतीय सस्कृति के तौर तरीकों को अपनाने के गुर भी संस्थाओ के माध्यम से सिखाकर मुख्य धारा से जोड़ने का काम कर रही है।