मियामी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में ज्वेरेव, एंडरसन ने प्रवेश किया

Zverev Anderson entered semi finals of Miami Open tennis tournament
Zverev Anderson entered semi finals of Miami Open tennis tournament

मियामी। चौथी सीड जर्मनी के एलेक्सांद्र ज्वेरेव ने धीमी शुरूआत के बाद बोर्ना कोरिच को लगातार सेटों में 6-4, 6-4 से हराकर मियामी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है जहां उनका मुकाबला पाब्लो कारीनो बुस्ता से होगा।

पुरूष एकल क्वार्टरफाइनल में बिजली फेल हो जाने के कारण मुकाबलों में एक घंटे से अधिक की देरी हुई। इसके बाद जर्मन खिलाड़ी ने कोरिच के खिलाफ मैच में धीमी शुरूआत की और दूसरे गेम में दो ब्रेक अंंकों का सामना किया। लेकिन इसके बाद स्थिति संभालते हुये दोनों सेटों में क्रोएशियाई खिलाड़ी की सर्विस ब्रेक करते हुये लगातार सेटों में मैच जीत लिया। करियर के तीन मैचों में यह जर्मन खिलाड़ी की कोरिच के खिलाफ पहली जीत भी है।

ज्वेरेव का अब 16वीं सीड स्पेन के बुस्ता के खिलाफ सेमीफाइनल में मैच होगा जिन्होंने छठी सीड दक्षिण अफ्रीका के केविन एंडरसन के खिलाफ चुनौतीपूर्ण तीनों सेटों के मैच में 6-4 5-7 7-6 से जीत अपने नाम की।
एक अन्य सेमीफाइनल में पांचवीं सीड अर्जेंटीना के जुआन मार्टिन डेल पोत्रो का मैच 14वीं सीड अमेरिका के जॉन इस्नर से होगा।

जर्मन खिलाड़ी ने बिजली फेल होने के बारे में कहा कि उन्हें इस बात से फर्क नहीं पड़ता और उन्होंने यह समय एनबीए मैच देखकर बिताया। उन्होंने माना कि शुरूआती छह अंक गंवाना अच्छा नहीं था और उनकी शुरूआती धीमी थी लेकिन अंतत: वह मैच जीत गये। ज्वेरेव के लिये अब बुस्ता की चुनौती कठिन रहेगी जो अच्छी फार्म में हैं और पिछले मैचों में केवल 12 गेम ही हारे हैं। बुस्ता ने भी करियर के पांच मैचों में पहली बार एंडरसन को हराया।

दो घंटे 42 मिनट के संघर्ष के बावजूद दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी को जीत नहीं मिली। लेकिन मास्टर्स 1000 में वह सभी 10 क्वार्टरफाइनल हार गये हैं। इस वर्ष न्यूयार्क ओपन में एटीपी टूर खिताब जीतने के बाद वह एकापुल्को तथा पुणे में उपविजेता रहे थे।