अमेठी में राहुल के बाद अब सोनिया को ‘लापता’ बताने वाले पोस्टर

After Rahul Gandhi, 'missing' posters of Sonia Gandhi surface in Amethi
After Rahul Gandhi, ‘missing’ posters of Sonia Gandhi surface in Amethi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अमेठी में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को ‘लापता’ बताने वाले पोस्टर लगाए जाने के बाद मंगलवार को उनकी मां और पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को ‘लापता’ बताने वाले पोस्टर उनके संसदीय क्षेत्र रायबरेली में लगे पाए गए।

रायबरेली के गोरा बाजार, महानंदपुर और गवर्नमेंट कालोनी में दर्जनों ऐसे पोस्टर रातोंरात लगा दिए गए, जिनमें उनका पता बताने वाले को इनाम देने की बात कही गई है।

पोस्टर में लिखा है कि यह रायबरेली के लोगों द्वारा जारी किया गया है, जो अपने संसदीय प्रतिनिधि की गैरमौजूदगी से खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। इन पोस्टरों को हालांकि कांग्रेस समर्थकों ने दीवारों से हटा दिया।

सोनिया गांधी इस साल अब तक अपने संसदीय क्षेत्र में नहीं गई हैं और राहुल गांधी फरवरी के बाद अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी नहीं गए हैं। वह उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार के लिए गए थे और उन्होंने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के साथ प्रदेश के कई हिस्सों में रोड शो किया था। मगर सोनिया अस्वस्थता के कारण चुनाव प्रचार नहीं कर सकी थीं।

स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पोस्टर लगवाने की यह करतूत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की है। अमेठी जिला कांग्रेस अध्यक्ष योगेंद्र मिश्र ने आरोप लगाया कि ऐसे बेबुनियाद पोस्टर लगवाने के पीछे भगवा कैम्प का हाथ है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अमेठी में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को ‘लापता’ बताने वाले पोस्टर लगाए जाने के बाद मंगलवार को उनकी मां और पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को ‘लापता’ बताने वाले पोस्टर उनके संसदीय क्षेत्र रायबरेली में लगे पाए गए।

रायबरेली के गोरा बाजार, महानंदपुर और गवर्नमेंट कालोनी में दर्जनों ऐसे पोस्टर रातोंरात लगा दिए गए, जिनमें उनका पता बताने वाले को इनाम देने की बात कही गई है।

पोस्टर में लिखा है कि यह रायबरेली के लोगों द्वारा जारी किया गया है, जो अपने संसदीय प्रतिनिधि की गैरमौजूदगी से खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। इन पोस्टरों को हालांकि कांग्रेस समर्थकों ने दीवारों से हटा दिया।

सोनिया गांधी इस साल अब तक अपने संसदीय क्षेत्र में नहीं गई हैं और राहुल गांधी फरवरी के बाद अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी नहीं गए हैं। वह उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार के लिए गए थे और उन्होंने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के साथ प्रदेश के कई हिस्सों में रोड शो किया था। मगर सोनिया अस्वस्थता के कारण चुनाव प्रचार नहीं कर सकी थीं।

स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने कहा कि पोस्टर लगवाने की यह करतूत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की है। अमेठी जिला कांग्रेस अध्यक्ष योगेंद्र मिश्र ने आरोप लगाया कि ऐसे बेबुनियाद पोस्टर लगवाने के पीछे भगवा कैम्प का हाथ है।