एशियाई हॉकी चैंपियंस ट्रॉफी में भारत ने पाकिस्तान को 3-2 से धोया

asian champions trophy hockey india beat arch rival pakistan 3-2
asian champions trophy hockey india beat arch rival pakistan 3-2

कुआंटन (मलेशिया)। भारत ने चौथी एशियाई चैम्पियन्स ट्रॉफी हॉकी चैम्पियनशिप के लीग मैच में आज यहां चिर प्रतिद्वंद्वी और गत चैम्पियन पाकिस्तान को कड़े मुकाबले में 3-2 से हराया। पाकिस्तान के शुरुआती हमलों के बीच भारतीय डिफेंस ने धैर्य बरकरार रखा।

युवा स्ट्राइकर प्रदीप मोर ने अपने 13वें अंतरराष्ट्रीय मैच में पहला गोल दागते हुए 11वें मिनट में भारत को बढ़त दिलाई लेकिन पाकिस्तान ने मोहम्मद रिजवान सीनियर (31वें मिनट) और मोहम्मद इरफान जूनियर (39वें) के गोल की मदद से जोरदार वापसी करते हुए 2-1 से बढ़त बना ली। रूपिंदर पाल सिंह ने ४३वें मिनट में भारत के एकमात्र पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला जबकि रमनदीप ने तलविंदर सिंह के क्रास पर अगले ही मिनट गोल दागकर स्कोर 3-2 कर दिया जो निर्णायक साबित हुआ।

इस जीत से भारत के तीन मैचों में सात अंक हो गए हैं। भारत ने अपने पहले मैच में जापान को 10-2 से हराया जबकि दक्षिण कोरिया के खिलाफ कल 1-1 से ड्रा खेला। दो बार के गत चैम्पियन पाकिस्तान को मेजबान मलेशिया के खिलाफ पहले मैच में 2-4 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी जबकि दूसरे मैच में उसने दक्षिण कोरिया को 1-0 से हराया। राउंड रोबिन चरण के बाद शीर्ष चार टीमें सेमीफाइनल में जगह बनाएंगी।

पाकिस्तान को पहले ही मिनट में मैच का पहला पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन भारतीय गोलकीपर पीआर श्रीजेश ने विरोधी टीम को गोल से महरूम रखा। श्रीजेश ने पहले मोहम्मद अलीम बिलाल की ड्रैग फ्लिक को पैड से रोका और फिर अपनी दायीं ओर गोता लगाते हुए रिबाउंड प्रयास को भी नाकाम किया। पाकिस्तान ने चौथे ही मिनट में एक और शानदार मूव बनाया लेकिन मोहम्मद रिजवान जूनियर सर्कल के उपर मिले शाट को गोल में डालने में नाकाम रहे। भारत ने भी इस बीच कुछ अच्छे मूव बनाए लेकिन विरोधी टीम के डिफेंस को भेदने में नाकाम रहे। भारत की ओर से गोल करने का सबसे पहला मौका तलविंदर सिंह को मिला लेकिन दायें छोर से मिले पास पर वह रिवर्स हिट से गोल नहीं दाग सके।

प्रदीप ने 22वें मिनट में पाकिस्तानी डिफेंडर से टकराकर आई गेंद को गोल में डालकर भारत को बढ़त दिलाई। प्रदीप के शाट का पाकिस्तानी गोलकीपर इमरान बट के पास कोई जवाब नहीं था। अपने 13वें अंतरराष्ट्रीय मैच में खेल रहे 24 साल के प्रदीप का यह पहला अंतरराष्ट्रीय गोल है। गोल से सकते में आए पाकिस्तान ने इसके बाद लगातार हमले किए लेकिन भारतीय डिफेंडर ने कुछ समय तक विरोधी टीम के स्ट्राइकरों को गोल से महरूम रखा।

पाकिस्तान ने मध्यांतर के बाद पहले ही मिनट में बराबरी हासिल कर ली जब रिजवान सीनियर ने लंबे पास पर बायें ओर से गेंद को गोल में डाल दिया। पाकिस्तान ने इसके बाद 39वें मिनट में बढ़त बनाई जब मोहम्मद इरफान जूनियर ने बायीं छोर से गोल दागते हुए टीम को 2-1 से आगे कर दिया। भारत को मैच के 43वें मिनट में पहला पेनल्टी कार्नर मिला जब गेंद पाकिस्तान के डिफेंडर के पैर में लगी।

रूपिंदर ने दमदार ड्रैग फ्लिक पर गोल दागकर भारत को बराबरी दिलाई। भारत ने अगले ही मिनट में स्कोर 3-2 कर दिया जब तलविंदर सिंह ने रमनदीप के पास पर गोल दागा। मैच के तीसरे क्वार्टर में चार गोल हुए लेकिन अंतिम क्वार्टर में दोनों ही टीमें कोई गोल करने में नाकाम रही।