भोजन के साथ या तुरन्त बाद पानी पीना हानिकारक

drinking water before or after food? a wrong habit : Ayurveda proof

नई दिल्ली। अक्सर हमने लोगों को कहते सुना है कि पानी पीना एक अच्छी आदत है अधिक पानी पीने से हम रोग मुक्त होते है। किसी भी रोग का रामबाण इलाज पानी अधिक पीना है।

करेले के फायदे तो सुने ही होंगे लेकिन पढ़ ले नुक्सान…

लेकिन खाने के साथ और खाने के तुरन्त बाद पानी पीना उतना ही हानिकारक होता है जितना पानी पीना फायदेमंद होता है। बहुत ही कम लोगो को पता होगा कि खाने के बाद पानी क्यों नही पीना चाहिये।

आयुर्वेद के अनुसार खाने के बाद पानी पीना सेहत के लिए हानिकारक होता है। खाने के बाद पानी तुरंत पीने से उसका असर पाचन क्रिया पर पड़ता है। खाना खाने के बाद पानी पीने से जठराग्नि समाप्त हो जाती है।

VIDEO: यहाँ होता है 10 रुपए में लड़की का सौदा

हम जो भोजन करते है वह नाभि के बाये हिस्से में स्थित जठराग्नि में जाकर पचता है। जठरआग्नि एक घंटे तक खाना खाने के बाद प्रबल रहती है। आयुर्वेद के मुताबिक जठर की अग्नि से ही खाना पचता है। अगर हम तुरंत पानी पी लेते है तो खाना पचने में काफी दिक्कत होती है।

ऑलिव ऑयल और नमक के इस पेस्ट से करे अपनी थकान…

इसलिए आयुर्वेद ने खाने और पानी पीने में यह अंतर रखा है। आयुर्वेद की मानें तो खाना खाने के लगभग एक से दो घंटे के बाद ही पानी पीना चाहिए। इसी तरह खाना खाने से करीब आधा घंटा पहले पानी पी लेना चाहिए खाना नहीं पचने की वजह से वो अमाशय में ही सड़ने लग जाता है और इससे गैस, एसिड बनना शुरू हो जाता है। जो तबियत बिगाड़ने के लिए काफी हैं।

sonu nigam नहीं अब लोग सुनते भी sonu song है और गाते भी sonu song

भोजन के समय पानी पीने से यह पेट की सतह द्वारा सोख लिया जाता है। यह प्रक्रिया तब तक चलती रहती है जब तक कि पेट में पाचन के लिए जरूरी द्रव्य इतने अधिक गाढ़े न हो जाएं कि वे भोजन को पचा सकें।

लेकिन खूब सारे पानी पीने के कारण यह द्रव्य पेट में मौजूद भोजन से भी अधिक गाढ़ा हो चुका होता है, ऐसे में भोजन पचाने के लिए पेट में गैस्ट्रिक जूस बनना शुरु हो जाता है। परिणामस्वरूप भोजन नहीं पचता और सीने में जलन होती है।

फास्टफूड का सेवन युवाओं को बना रहा हृदय रोग का शिकार

भोजन सादा हो तो भोजन के समय पानी न पीना लाभकारी होता है। लेकिन जब भोजन अधिक मसालेदारहो तो पानी पीना आवश्यक है, ऐसे में पानी पीने से आपके शरीर को कोई नुकसान नहीं होगा।

इसके विपरीत यदि भोजन प्राकृतिक हो और भोजन को अच्छी तरह से चबा-चबाकर खाते हैं तो भोजन के बीच पानी पीने की कोई आवश्यकता नहीं होती।

सलमान-अक्षय के बॉडी ट्रेनर की मौत पर कोई नहीं पंहुचा

तीखा या चटपटा भोजन करते समय ध्यान रखें कि प्यास लगने पर एक या दो घूंट पानी ही पीएं। ज्यादा पानी से पाचन सही से नहीं हो पाता है।

भोजन करते समय अगर आपको खांसी आती हो और भोजन के बीच में पानी पीने की जगह दूध, दही का इस्तेमाल कर सकते है। जो अपको भोजन पचाने में मदद कर सकेगा।

रोजाना तांबे के बर्तन में रखे पानी को पिने से इन…

अगर आप खाने के साथ अन्य कोई पेय पदार्थ जैस कोल्ड ड्रिंक या दूध लेते हैं तो यह आपके पाचन शक्ति के लिए ठीक नहीं हैं।

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए,  और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE