ED ने अटैच की जाकिर नाईक की 18 करोड़ की संपत्ति

ed attaches properties worth Rs 18 crore of zakir naik and ngo
ed attaches properties worth Rs 18 crore of zakir naik and ngo

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को विवादास्पद मुस्लिम प्रचारक जाकिर नाईक की 18 करोड़ रुपए की संपत्ति अटैच कर दी है। ईडी ने ये कार्रवाई मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत् की है। इसमें म्युचल फंड, रियल इस्टेट और बैंक बेलेंस शामिल हैं।

ईडी ने जाकिर नाईक के संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) के खिलाफ हवाला कारोबार का मामला दर्ज किया था। ईडी ने ये केस एनआईए द्वारा नवंबर, 2016 में जाकिर नाईक और उनके संगठन के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद किया था।

आरोप था कि जाकिर नाईक और उनके सहयोगी भारत में अपने स्वार्थ के लिए द्वेष फैला रहे हैं। जाकिर नाईक के भड़काऊ भाषणों के चलते कई युवकों ने गैरकानूनी राह पकड़ी थी। जिसके बाद जाकिर नाईक के संगठन आईआरएफ को बैन कर दिया गया।

जाकिर नाईक के खिलाफ चार सम्मन जारी किए गए, लेकिन उसने इनका पालन नहीं किया। बाद में जाकिर नाईक के एक सहयोगी को इन्ही गैरकानूनी गतिविधियों के चलते गिरफ्तार किया गया।

सोमवार को की गई कार्रवाई में आईआरएफ के 9.41 करोड़ रुपए के म्युचल फंड, 68 लाख रुपये कीमत का गोडाउन, 7.05 करोड़ कीमत की मीडिया कंपनी और स्कूल की बिल्डिंग, 5 बैंक एकाउंट्स जिसमें 1.23 करोड़ रुपए थे, उन सभी को अटैच कर दिया गया।