ISL-4 : फेरान की हैट्रिक, गोवा ने केरल को 5-2 से हराया

Indian Super League, FC Goa vs Kerala Blasters FC, Goa beat Kerala 5-2
Indian Super League, FC Goa vs Kerala Blasters FC, Goa beat Kerala 5-2

फातोर्दा। स्पेनिश फारवर्ड फेरान कोरोमिनास टेलेचिया उर्फ कोरो की शानदार हैट्रिक की बदौलत मेजबान एफसी गोवा ने शनिवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग के चौथे सीजन के अपने चौथे मुकाबले में मौजूदा उपविजेता केरला ब्लास्टर्स को 5-2 से हरा दिया।

फेरान ने इस सीजन की पहली हैट्रिक लगाई। हाफ टाइम तक मुकाबला बराबरी का चल रहा था लेकिन फेरान ने सीजन-4 की पहली और आईएसएल इतिहास की अब तक की सबसे तेज हैट्रिक के साथ इस मैच में इतना अंतर पैदा कर दिया, जिसकी भरपाई 2016 के फाइनलिस्ट नहीं कर पाए और इस सीजन में पहली हार को मजबूर हुए। केरल ने इससे पहले खेले गए तीन मुकाबले ड्रॉ किए थे।

फेरान द्वारा दूसरे हाफ में 48वें, 51वें और 55वें मिनट में किए गए तीन गोलों की मदद से गोवा ने 10 टीमों की तालिका में दूसरा स्थान हासिल कर लिया है। चार मैचों में यह उसकी तीसरी जीत है। उसके खाते में बेंगलुरू एफसी और चेन्नयन एफसी के बराबर नौ अंक हो गए हैं लेकिन बेहतर गोल अंतर ने बेंगलुरू को पहले स्थान पर बनाए रखा है। केरल की टीम आठवें स्थान पर ही बनी हुई है।

मैच की शुरुआत काफी आक्रामक अंदाज में हुई। तालिका में अपनी स्थिति बेहतर करने की होड़ में दोनों टीमों ने सीटी बजने के साथ ही एक दूसरे के बॉक्स एरिया का रुख किया। इस क्रम में पहली सफलता केरला को मिली।

मार्क सिफनोइस ने सातवें मिनट में जैकी चंद की मदद से आईएसएल-4 का अब तक का सबसे तेज गोल करते हुए अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया। सिफनोइस ने यह गोल ऐसे समय में किया, जब पांचवें मिनट में दिमितार बोर्बातोव हैमस्ट्रींग इंजुरी के कारण मैदान से बाहर चले गए थे।

अपने घर में खेल रही आत्मविश्वास से भरपूर गोवा की टीम ने हालांकि केरल को अधिक देर तक खुशी नहीं मनाने दी और नौवें मिनट में किए गए गोल की मदद से बराबरी कर ली। गोवा के लिए यह गोल मैनुएल लैंजारोते ने किया। नारायन दास ने अपनी टीम को बराबरी दिलाने में लैंजारोते की मदद की।

इस गोल के बाद मेजबान टीम हावी हो गई और अपने हमले तेज कर दिए। 18वें मिनट में लैंजारोते ने एक और गोल करते हुए गोवा को आगे कर दिया। अब मौजूदा उपविजेता दबाव में था। 23वें मिनट में जब नेमांजा पेसिक को पीला कार्ड दिखाया गया तो उसका यह दबाव और बढ़ गया।

केरल की टीम ने हालांकि इस दबाव को प्रेरणा के तौर पर लिया और मेजबान पर दबाव बनाने का क्रम जारी रखा। उसे 30वें मिनट में जैकीचंद सिंह ने एक शानदार सफलता दिलाई। जैकी ने बेहतरीन गोल करते हुए स्कोर 2-2 कर दिया। स्कोरलाइन बराबर होने का मतलब था कि इस मैच में अभी काफी रोमांच बाकी है।

इसी रोमांच की वजह से 34वें मिनट में गोवा के अहमद जाहो को पीला कार्ड दिखाया गया। इसके बाद दोनों टीमों ने एक दूसरे के खिलाफ कई और अच्छे हमले किए लेकिन सफलता किसी को नहीं मिली। हाफटाइम तक स्कोर 2-2 ही रहा।

दूसरे हाफ की शुरुआत भी आक्रामक रही। हाफ टाइम में बनाई गई रणनीति पर चलते हुए गोवा ने 48वें मिनट में फेरान के गोल की मदद से बढ़त हासिल की। फेरान ने यह गोल जाहो की मदद से की, जिन्हें 34वें मिनट में पीला कार्ड दिखाया गया था।

मेहमान अभी इस गोल के गम से उबर भी नहीं पाए थे कि फेरान ने 51वें मिनट में एक और कोल करते हुए गोवा को 4-2 से आगे कर दिया। फेरान ने यह गोल ब्रेंडन फर्नाडिस के सहयोग से किया।

50वें मिनट में केरल ने एक जोरदार हमला किया लेकिन वह नाकाम हो गया। बदले में गोवा ने 55वें मिनट में किए गए हमले को गोल में तब्दील कर 5-2 की बढ़त हासिल कर ली। मेजबान के लिए यह गोल भी फेरान ने किया। फेरान ने यह गोल पहले हाफ में गोवा के लिए दो गोल कर चुके लैंजारोते की मदद से किया। इसी के साथ फेरान ने सीजन-4 की पहली हैट्रिक लगाई।