खादी, हैंडलूम गरीबों को सशक्त बना रहे : मोदी

Mann Ki Baat : Khadi, handloom empowering poor says PM Modi
Mann Ki Baat : Khadi, handloom empowering poor says PM Modi

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि खादी और हैंडलूम गरीबों के जीवन में सकारात्मक और गुणात्मक बदलाव लाकर उन्हें सशक्त बनाने का काम कर रहे हैं। मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा कि भारत ‘खादी ऑफ नेशन’ के दिनों से ‘खादी फॉर फैशन’ का गवाह बना और अब देश ‘खादी फॉर ट्रांसफॉर्मेशन’ की तरफ बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि खादी और हैंडलूम ने गरीब से गरीब व्यक्ति के जीवन में बदलाव लाने में मदद की है और ये उन्हें सशक्त बनाने के साधन के रूप में उभर रहे हैं। यह ग्रामोदय के लिए भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

मोदी ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस साल खादी और हस्तनिर्मित वस्तुओं की कुल बिक्री में करीब 90 फीसदी की बढ़त हुई है।

उन्होंने कहा कि गांधी जयंती पर मैं हमेशा खादी और हैंडलूम के उपयोग की वकालत करता रहा हूं। इसका क्या नतीजा निकला? आपको यह जानकर आनंद होगा कि इस महीने धनतेरस के दिन दिल्ली के खादी ग्रामोद्योग भवन स्टोर में एक करोड़ रुपए की बिक्री हुई। उन्होंने कहा कि दीवाली के दौरान खादी उपहार कूपनों की बिक्री करीब 680 फीसदी बढ़ी।

मोदी के अनुसार हर कोई यह स्पष्ट रूप से देख सकता है कि आज युवा, बुजुर्ग, महिलाएं बल्कि हर आयु वर्ग का शख्स खादी और हस्तनिर्मित वस्तुओं को पसंद कर रहा है। मैं कल्पना कर सकता हूं कि इससे कितने बुनकर परिवारों, गरीब परिवारों और हस्तनिर्मित वस्तुओं के उद्योग से जुड़े परिवारों को लाभ हुआ है।

गुरु नानक के बताए रास्ते पर चलने का मोदी का आग्रह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि गुरु नानक न केवल सिखों के पहले गुरु हैं, बल्कि पूरी दुनिया के भी गुरु हैं। उन्होंने लोगों से उनके आदर्शो और शिक्षाओं का अनुसरण करने का आग्रह किया।

मोदी ने ‘मन की बात’ में कहा कि सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक ने सच्ची मानवता का संदेश देने के लिए पैदल ही 28,000 किलोमीटर की यात्रा की।

गुरु नानक जयंती चार नवंबर को मनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि आगामी वर्ष 2019 में हम गुरु नानक देवजी का 550वां प्रकाश वर्ष मनाने जा रहे हैं। हम सभी उनके आदर्शो और शिक्षाओं के रास्ते पर आगे बढ़ने का प्रयास करें।

मोदी ने कहा कि गुरु नानक ने मानवता के कल्याण की कामना की और सभी जातियों को समान माना। उन्होंने महिला सशक्तिकरण और महिला सम्मान पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने लंगर की परंपरा शुरू की, जिसने लोगों के बीच सेवा की भावना के बीज बोए। लंगर का हिस्सा बनकर लोगों में एकता और मेल की भावना पैदा हुई।

https://www.sabguru.com/mann-ki-baat-diwali-celebration-with-soldiers-unforgettable-says-pm-modi/

https://www.sabguru.com/mann-ki-baat-modi-expresses-concern-over-diabetes-in-children-urges-healthy-lifestyle/