अमरीका में लापता हुई भारतीय बच्ची बनी चिंता का सबब

no breakthrough yet in tracing missing 3 year old indian girl in US
no breakthrough yet in tracing missing 3 year old indian girl in US

ह्यूस्टन। रिचर्डसन शहर में दो सप्ताह पहले रहस्यमय तरीके से लापता हुई तीन वर्षीय भारतीय बच्ची को लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने चिंता जाहिर की है। संघीय जांच एजेंसी ने लड़की के घर से मोबाइल, लैपटॉप, वाशर और ड्रायर सहित 50 से अधिक सामान जब्त किए हैं। हालांकि अब भी मामले में कोई उल्लेखनीय प्रगति नहीं हो सकी है। यह जानकारी शुक्रवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

रिपोर्ट के मुताबिक शेरिन मैथ्यूज सात अक्तूबर को लापता हो गई थी। उसको गोद लेने वाले पिता वेस्ले मैथ्यूज ने पुलिस को बताया कि दूध नहीं पीने के दंडस्वरूप उसने लड़की को सुबह तीन बजे के आसपास अपने घर के बाहर छोड़ दिया था।

शेरिन के लापता होने पर चिंता जाहिर करते हुए सुषमा ने ट्वीट कर कहा कि हम लापता बच्ची को लेकर बहुत अधिक चिंतित हैं। अमरीका में भारतीय दूतावास सक्रियता से इस मामले को देख रहा है और मुझे अवगत करा रहा है।

ह्यूस्टन में भारत के महावाणिज्यदूत अनुपम रे ने ट्वीट कर कहा कि हम शेरिन मैथ्यू के मामले पर करीब से निगाह रख रहे हैं। हमने समुदाय और अधिकारियों से संपर्क किया है। खबरों के मुताबिक भारतीय मूल के दंपती ने बिहार के नालंदा जिले से पिछले वर्ष एक दिव्यांग बच्ची को गोद लिया था।

पुलिस को जांच में कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है, लेकिन एफबीआई के जासूसों ने घास, कचरा और लापता लड़की के भारतीय मूल के माता-पिता के तीन वाहनों से प्राप्त रसीदों का डीएनए लिया है। स्थानीय टीवी चैनल फॉक्स न्यूज के मुताबिक उन्होंने परिवार के एसयूवी से एक फ्लैश ड्राइव, सीट बेल्ट और रेडियो उपकरण भी लिया है।