45 डिग्री के कोण पर बिना लुढ़के सदियों से टिका हुआ है यह पत्थर

This stone is hinged for centuries without rolling at an angle of 45 degrees.
This stone is hinged for centuries without rolling at an angle of 45 degrees.

दक्षिण भारत के महाबलिपुरम में एक पत्थर को देखने दुनियाभर से लोग पंहुचते हैं। इस पत्थर की खास बात है कि ये एक ऐसी ढलान पर रखा हुआ है। जहां किसी भी चीज का टिक पाना असंभव है पर यह सदियों से टिका हुआ है।  45 डिग्री के कोण पर बिना लुढ़के टिका हुआ है। यह पत्थर कृष्णा की बटर बॉल के नाम से फेमस है। यह कृष्ण के प्रिय भोजन मक्खन का प्रतीक है जो स्वयं स्वर्ग से गिरा है ।अपने विशाल आकार के वाबजूद कृष्णा की यह बटर बॉल भौतिक विज्ञान के ग्रेविटी के नियमों की उपेक्षा करते हुए पहाड़ी की 4 फीट की सतह पर, अनेक शताब्दियों से एक जगह पर टिकी हुई है। जियोलॉजिस्ट मानते हैं कि कोई भी प्राकर्तिक पदार्थ ऐसे असामान्य आकार के पत्थर का निर्माण नहीं कर सकते। कुछ स्थानीय लोग इसको भगवान का चमत्कार मानते हैं। दक्षिण भारत में राज करने वाले पल्लव वंश के राजा ने इस पत्थर को हटाने का प्रयास किया, लेकिन कई कोशिशों के बाद उनके शक्तिशाली लोग इसको खिसकाने में भी सफल नहीं हुए। 1908 में मद्रास के गवर्नर आर्थर ने इसको हटाने का आदेश दिया जिसके लिए सात हाथियों को काम पर लगाया गया लेकिन यह पत्थर टस से मस नहीं हुआ।

जयपुर के इस होटल में है चांदी के बैड और सोने के नल

14 साल की उम्र का किशोर बना यूनिवर्सिटी में गणित का प्रोफेसर

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए,  और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE