जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के आयुक्त को सौंपा ज्ञापन

आबूरोड(सिरोही)। वन अधिकार एवं पेसा अधिनियम के क्रियान्वयन को लेकर महिला नेत्रियों ने उदयपुर स्थित जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के आयुक्त को ज्ञापन सौंपा तथा वन प्रबंधन में महिला नेत्रियों की भागीदारी सुनिश्चित करने की मांग की।

भाखर भितरोट आदिवासी विकास मंच आबूरोड के तत्वावधान में शुक्रवार को जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के आयुक्त कार्यालय पहुंचकर महिला नेत्रियों ने वन एवं पेसा अधिनियम क्रियान्वयन के संबंध में कमिश्नर को ज्ञापन प्रस्तुत किया।

ज्ञापन में जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के ब्लॉक पिंडवाड़ा व आबूरोड में विगत प्रशासन गावों के संग शिविर में 750 से अधिक व्यक्तिगत दावों के अधिकार पत्र जारी नहीं करने, सामुदायिक हक पत्र, पेसा नियम के अनुसार ग्राम सभाओं का आयोजन नहीं होना, अधिनियम अनुसार शांति समितियों के ग्राम स्तर प्रशिक्षण नहीं होने, वनाधिकार हक पत्रों को ऑनलाइन राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज नहीं होने से नरेगा व अन्य सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित होने की समस्या से अवगत करवाया। कमिश्नर ने इन मुद्दों पर त्वरित कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया।

ज्ञापन सौंपने के दौरान महिला नेत्री सरमी बाई, लालीबाई, नवी बाई, लसी बाई, साकली बाई, लीलाबाई, जोमी बाई, कालीबाई समेत कई महिलाएं उपस्थित रहीं।