बढ़ते ग्लोबल वार्मिंग को वृक्षारोपण के माध्यम से रोका जा सकता है : नीरज जैन

अजमेर। राजस्थान में अजमेर नगर निगम के उपमहापौर नीरज जैन ने कहा है कि तेजी से बढ़ते ग्लोबल वार्मिंग को वृक्षारोपण के माध्यम से रोका जा सकता है।

जैन आज अजमेर के कोटड़ा क्षेत्र के पिंक गार्डन में मदर अर्थ फाउंडेशन की ओर से आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल में आक्सीजन की कमी ने हम सब को पेड़ों का महत्व समझा दिया है। उन्होंने संदेश दिया कि जब होंगे वृक्ष सुरक्षित, तभी होगा हमारा कल सुरक्षित।

संस्था के ट्रस्टी आशीष राजोरिया ने बताया कि मदर अर्थ फाउंडेशन के द्वारा 100 पौधों का पौधरोपण पिंक उद्यान कोटड़ा में किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उपमहापौर जैन ने 20 पौधों का रोपण कर उनके देखभाल की जिम्मेदारी भी ली। उन्होंने क्षेत्रवासियों से निवेदन किया कि महज पौधों का रोपण करना ही आवश्यक नहीं है वरन उनकी निरंतर देखभाल करना भी बेहद जरूरी है।

राजोरिया ने बताया कि इसी तरह 100 पौधों का रोपण माननीय महापौर ब्रजलता हाड़ा के आतिथ्य में ज्योति नगर, तोपदड़ा में किया गया। हाड़ा ने मदर अर्थ फाउंडेशन संस्था की तारीफ करते हुए कहा कि संस्था का उद्देश्य पर्यावरण के प्रति समर्पित है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि मदर अर्थ फाउंडेशन बहुत जल्द अपने 1 लाख वृक्षारोपण के लक्ष्य को प्राप्त कर लेगा। साथ ही 100 पौधों का पौधारोपण ज्योति नगर तोपदड़ा अजमेर में मदर अर्थ फाउंडेशन द्वारा किया गया।

संस्था की ट्रस्टी रीतू मेहरडा ने बताया कि मदर अर्थ फाउंडेशन ने अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए आज तीसरे प्रयास में 200 पौधे नीम, अशोक, आम, नीम्बू, कटहल व पीपल के अजमेर में लगाए हैं। इन पेड़ों की देखरेख मदर अर्थ फाउंडेशन द्वारा की जायेगी सभी पेड़ो को 3 वर्ष तक अपनी देखरेख में रखा जाएगा ताकि पेड़ो को आवश्यकता अनुसार पानी व खाद समय समय पर दी जा सके सभी पेड़ो की जीओ मैपिंग भी की जाएगी।

उन्होंने बताया कि फाउंडेशन का उद्देश्य अजमेर जिले में एक लाख पेड़ लगाने का है ताकि कोरोना महामारी में ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई जन हानि को पेड़ लगाकर ऑक्सीजन की पूर्ति की जा सके। अब तक मदर अर्थ फाउंडेशन द्वारा 650 पेड़ो का पौधारोपण किया जा चुका है जल्द ही अपने एक लाख पौधों का लक्ष्य पूरा किया जाएगा।

मदर अर्थ फाउंडेशन के पौधरोपण कार्यक्रम में आशीष राजोरिया, रितु मेहरड़ा, सौम्या राजोरिया, दीपिका बोयत, शशिप्रकाश इन्दोरिया, पार्षद रणजीत नरुका, फुरकान शेख, विशाल वर्मा, दिनेश गोठरवाल, निरंजन चौधरी, वेद सिसोदिया, कमलेश बंजारा, आकाश राजोरिया, पियूष जैन, विपुल खंडेलवाल, रविन्द्र चौहान सिवासिया, रामसिंह बागवाल, सुनील त्यागी, श्याम सुंदर, फूलसिंह रावत, अविनाश, मोहित शर्मा, सुंदर टांक, प्रवीण, कुकू दगदी, नागेंद्र सिंह, चित्रांश राजोरिया, अर्पित राजोरिया, विजय गहलोत, सीपी शर्मा, रजनीश चौहान आदि उपस्थित थे।