उदयपुर : 15 जनजाति बच्चों को बाल मजदूरी से बचाया

उदयपुर। राजस्थान के जनजाति बहुल इलाके कोटड़ा क्षेत्र से मजदूरी के लिए गुजरात ले जाए जा रहे 15 बच्चों को पुलिस ने बचाया।

मामला सोमवार रात का है। उदयपुर जिले की कोटड़ा तहसील के पानरवा थाना क्षेत्र से 15 बच्चों को बीटी कपास की खेती में काम करने के लिए ले जाया जा रहा था। पुलिस थाना पानरवा के दल ने इन बच्चों को बचाकर जीप चालक सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया। बचाए गए बच्चों में 10 बालक और 5 बालिकाएं हैं।

पुलिस थाना पानरवा से हैड कांस्टेबल हिम्मत सिंह ने इन बच्चों को रात को ही बाल कल्याण समिति के हरीश पालीवाल के सामने प्रस्तुत किया। वहां से बालकों को श्री आसरा विकास संस्थान के तितरड़ी स्थित ओपन शेल्टर होम में और बालिकाओं को मुखर्जी चैक स्थित महिला मंडल के मीरा निराश्रित गृह भेजा गया है।