चित्तौड़गढ़ में भीषण सडक हादसा, 6 महिलाओं की मौत

 

सबगुरु न्यूज चित्तौडगढ़। उदयपुर संभाग के चित्तौड़गढ़ में शुक्रवार अल सुबह 5 बजे बड़ा हादसा हुआ। हादसे में 5 महिलाओं ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया जबकि एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ा। 7 अन्य महिलाएं व चालक गंभीर घायल हो गए। सभी डूंगरपुर जिले के सागवाड़ा के रहने वाले सोमपुरा जाति के हैं। सोमपुरा जाति के लोग मंदिर शिल्प में सिद्धहस्त माने जाते हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उदयपुर-चित्तौड़गढ़ मार्ग पर सांवलियाजी चौराहे पर हाईवे पर खड़े ट्रेलर में एक टैम्पो ट्रैक्स तेज गति से पीछे से घुस गई। भिड़न्त इतनी भीषण थी कि ट्रैक्स बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।

घायलों को चित्तौडगढ़ सावलियांजी चिकित्सालय लाया गया, जहां पर आपाधापी मच गई। मेडिकल टीम ने सभी का उपचार शुरू किया। घायलों में पांच की हालत गभीर बनी हुई है। दो टेम्पो टैक्सी में सागवाड़ा से 24 महिलाएं खाटू श्याम के दर्शन करने गई थी। दर्शन के बाद लौट रही थीं तथा सावलिया जी के दर्शन के लिए जाना था, इससे पहले हादसा हो गया।

क्षेत्र के लोगों ने इस हादसे के बाद पुलिस पर फिर से सवाल उठाया है। दरअसल, यहां पर ट्रक-ट्रेलर हाईवे पर ही खड़े कर दिए जाते हैं। संबंधित पुलिसकर्मी इन्हें हाईवे से नहीं हटाते। ऐसे में हाईवे संकड़ा हो जाता है। इस बारे में क्षेत्र के लोग बार-बार पुलिस-प्रशासन को कह चुके हैं, लेकिन उनके कानों पर जूं नहीं रेंगती।