आदर्श आचार संहिता का होगा पालन, निष्पक्ष माहौल में होंगे उपचुनाव

अजमेर। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला कलक्टर गौरव गोयल ने सभी अधिकारियों को लोकसभा उपचुनाव की तैयारियां शुरू करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी आदर्श आचार संहिता का पालन तथा निष्पक्ष व निर्भीक माहौल में चुनाव कराना सुनिश्चित करें।

उपचुनाव में इस बार वीवीपेट मशीन का उपयोग सहित कई नवाचार होंगे। मतदाताओं को इनकी जानकारी के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार -प्रसार किया जाएगा।

जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव गोयल ने शुक्रवार शाम कलेक्ट्रेट में सम्पन्न बैठक में अजमेर लोकसभा उपचुनाव के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारियां सौंपी। चुनाव के सुचारू संचालन के लिए विभिन्न प्रकोष्ठों का गठन किया गया है। इन प्रकोष्ठों में तैनात अधिकारी व कर्मचारी अपने से संबंधित सभी कार्य तय समय सीमा में सम्पादित करेंगे।

बैठक में गोयल ने कहा कि निर्वाचन विभाग के विस्तृत निर्देशों के अनुसार लोकसभा उपचुनाव की समस्त प्रक्रिया सम्पादित करवायी जाएगी। अधिकारी सुनिश्चित करें कि आदर्श आचार संहिता की पूरी तरह पालना हों। लोकसभा क्षेत्र के सभी मतदान केन्द्रों पर जरूरी इंतजाम समय से पूर्व कर लिए जाएं।

उन्होंने बताया कि इस बार अजमेर में पहली बार वोटर वैरीफाई पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपेट) मशीन का उपयोग किया जाएगा। यह मशीन अजमेर के मतदाताओं के लिए नई होगी। राजस्थान लोकसभा चुनावों में पहली बार इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। ऎसे में उन्हें इसकी जानकारी देने के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाएगा।

भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। हमें निष्पक्ष रूप से चुनाव करवाकर अपने दायित्व का निर्वहन करना है। सभी अधिकारी तुरन्त प्रभाव से चुनाव की तैयारियों में जुट जाएं।

गोयल ने निर्देश दिए कि चुनाव के सफल संचालन के लिए विभिन्न स्तरों पर मजिस्ट्रेटों की नियुक्ति की जा रही है। सभी मजिस्ट्रेट अपने – अपने क्षेत्र में मतदान एवं मतदान केन्द्र से संबंधित सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेंगे।

उन्होंने कहा कि चुनाव में कई नवाचार होंगे साथ ही मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए भी जिले से ग्राम पंचायत के वार्ड स्तर तक तथा स्कूल कॉलेजों सहित अन्य संस्थाओं में स्वीप गतिविधियां संचालित की जाएगी ताकि ज्यादा से ज्यादा मतदाता अपने मत का प्रयोग करें।

चुनाव के लिए रूट चार्ट, चैक पोस्ट, वाहन ग्रुपिंग, वाहनों का अधिग्रहण, डाक मत पत्रों के लिए व्यवस्थाएं, मत पत्रों का मुद्रण आदि व्यवस्थाएं पूरी जिम्मेदारी के साथ सुनिश्चित की जाए।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव संबंधी सभी कामकाज के प्रभावी सम्पादन के लिए कलेक्ट्रेट में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाएगा। साथ ही कलेक्ट्रेट परिसर में तैयार किया गया अभय कमांड कंट्रोल सेन्टर वीडियो कैमरों एवं अन्य तकनीकों की सहायता से चुनाव प्रक्रिया पर नजर रखेगा। चुनाव में तैनात सभी कार्मिकों को व्यापक स्तर पर प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि किसी तरह की कमी की गुंजाइश नहीं रहे।

उन्होंने पैड न्यूज तथा अन्य गतिविधियों पर निगरानी के लिए एमसीएमसी प्रकोष्ठ गठित करने तथा मीडिया सेन्टर बनाने के भी निर्देश जारी किए। बैठक में मतगणना, मतदान दलों की रवानगी, प्रत्याशियों द्वारा भरे जाने वाले नामांकन की जांच तथा शपथ पत्रों की जांच, कर्मचारियों की तैनातगी आदि पर भी चर्चा कर निर्देश दिए गए।

बैठक में नगर निगम के सीईओ हिमांशु गुप्ता, प्रशिक्षु आईएएस टीना डाबी, अतिरिक्त जिला कलक्टर कैलाश चन्द शर्मा, स्थानीय निकाय विभाग के उप निदेशक किशोर कुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर द्वितीय अबु सूफियान चौहान, अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर श्री अरविंद सेंगवा, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरूण गर्ग, एसीईओ भगवत सिंह, जिला रसद अधिकारी संजय माथुर, महिला एवं बाल विकास विभाग की उप निदेशक अनुपमा टेलर, उपखण्ड अधिकारी अंकित कुमार सिंह सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को दी आचार संहिता के प्रावधानों की जानकारी

जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव गोयल की अध्यक्षता में शुक्रवार को कलेक्ट्रेट स्थित अटल सेवा केन्द्र पर राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित हुई। इसमें अजमेर लोकसभा उप चुनाव के संबंध में चुनावी प्रक्रियाओं पर चर्चा की गई। साथ ही आदर्श चुनाव आचार संहिता के विभिन्न प्रावधानों पर जानकारी प्रदान की गई।

गोयल ने कहा कि पुलिस एवं प्रशासन अजमेर लोकसभा क्षेत्र में निष्पक्ष चुनाव आयोजित करवाने के लिए कटिबद्ध है। चुनाव प्रक्रिया के दौरान भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों का पालन किया जाएगा। आदर्श चुनाव आचार संहिता के पालन में निर्वाचन विभाग के द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार कार्य किया जाएगा। विभिन्न दलों एवं प्रत्याशियों द्वारा सभा और जुलूस के संबंध में अनुज्ञा प्राप्त करनी आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि मतदान एवं चुनाव प्रक्रिया को निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्वक सम्पादित करवाना समस्त नागरिको का उत्तरदायित्व है। चुनाव प्रक्रिया पूरी पारदर्शिता अपनाते हुए सम्पादित की जाएगी। जिसमें सभी का सहयोग अपेक्षित है। इस अवसर पर विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।