गैंगरेप से पूरा बिहार शर्मसार : सुशील मोदी

 brutal gang rape case in  bihar

पटना। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को कहा कि राजधानी पटना के निकट परसा बाजार थाना क्षेत्र के महुआबाग गांव में शनिवार की रात सामूहिक दुष्कर्म के बाद अतिपिछड़ी जाति की एक नाबालिग लड़की की हत्या से पूरा बिहार शर्मसार हुआ है। मोदी ने पीडिता के परिजनों से मिलने और घटना की पूरी जानकारी लेने के बाद कहा कि तीन दिन बाद तक न तो किसी आरोपी की गिरफतारी हुई है और न ही सरकार की ओर से पीडित परिवार को कोई मुआवजा ही दिया गया है।…

इस बीच दबंगों द्वारा पीडित परिवार को धमकाया भी जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार को बलात्कार की सभी घाटनाओं की स्पीडी ट्रायल करा कर दोषियों को सख्त से सख्त सजा देनी चाहिए। भाजपा नेता ने कहा कि गांव के लोगों से मिली जानकारी के अनुसार घटना की रात मंदिर के बगल में जागरण का कार्यक्रम हो रहा था।

बगल के चापाकल पर पानी पीने गई नाबालिग से शराब के नशे में चूर कुछ अपराधियों ने दुष्कर्म किया और पहचाने जाने के भय से गला दबा क र उसकी हत्या कर दी। घटनास्थल से शराब की बोतलें भी बरामद हुई हैं। मोदी ने कहा कि जागरण के दौरान बज रहे लाउडस्पीकर के शोर में लड़की की चीख कोई सुन नहीं पाया और पेट्रोलिंग में तैनात पुलिस भी घटना से बेखबर रही।

उन्होंने कहा कि शराब की वजह से महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अपराध को देखते हुए सरकार को अपनी शराब नीति पर पुनर्विचार करना चाहि ए। भाजपा नेता ने कहा कि आजादी के बाद से अब तक के सभी रिकार्ड को तोड़ते हुए साल 2013 में बलात्कार की सर्वाधिक घटनाएं प्रतिवेदित हुई है।

साल 2013 में बलात्कार की 1128 घटनाएं घटी जो आज तक किसी एक साल में घटी घटनाओं में सर्वाधिक है। वर्ष 2014 के अगस्त तक ही बलात्कार की 816 घटनाएं घट चुकी हैं। मोदी ने कहा कि कटिहार जिले में बलात्कार की सर्वाधिक 86 घटनाएं हुई हैं इसके बाद राजधानी पटना का स्थान आता है जहां 76 घटनाएं प्रतिवेदित हुई है।

उन्होंने कहा कि पिछड़े, अतिपिछडे और कमजोर वर्ग की युवतियां और महिलाएं दुष्कर्म का सबसे ज्यादा शिकार हो रही हैं। सर्वाधिक पलायन करने वाले जिले पूर्णिया में 54, अररिया में 52 और किशनगंज में 52 बलात्कार के मामले में सामने आए हैं। भाजपा नेता ने कहा कि पूरे प्रदेश में प्रशासन के पंगु होने से विधि – व्यवस्था की स्थिति लचर हुई है।

उन्होंने कहा कि कमजोर वर्ग के लोगों खास कर महिलाओं को सुरक्षा देने में सरकार बुरी तरह से विफल साबित हुई है। उन्होंने सरकार से अविलम्ब बलात्कार पीडिता के परिजनों को मुआवजा देने और आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए कहा कि सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री के क्षेत्र में यह शर्मनाक घटना घटी है लेकिन आज तक मंत्री ने इसकी सुध तक नहीं ली है।

रेप मामले में 10 घंटे में चार्जशीट दाखिल

बिहार में भागलपुर जिले के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के सीतारामपुर क्षेत्र में एक पांच साल की नाबालिग के साथ बलात्कार के मामले में पुलिस ने दस घंटे के अंदर चार्जशीट दाखिल कर दी। पुलिस उपाधीक्षक राकेश कुमार ने मंगलवार को बताया कि नाबालिग के साथ बलात्कार क रने के आरोप में पंकज कुमार साह को सीतारामपुर इलाके से ही घटना के कुछ घंटों के अंदर गिरफ्तार कर लिया गया। मामले का आरोप पत्र भी पुलिस ने दस घंटों के अंदर दाखिल कर दिया था। मामले के अनुसार आरोपी पंकज चिप्स देने के बहाने बच्ची को अपने टेंट हाउस ले गया जहां उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोपी पंकज नाबालिग बच्ची का रिश्ते में चचेरा चाचा है। बच्ची को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है।