बडके को ठिकाने लगाने लगे छुटके नेता

sab-3

सिरोही। भाजपा के बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं के सम्मेलन के दौरान एक और नजारा दिखा। वो भी गृहमंत्री से बात करने के दौरान मीडियाकर्मियों की पीठ के पीछे। सम्मेलन के दौरान लोकसभा चुनाव में बडक़े नेता की राह में रोडा बनने वाले दो लोग भाजपा में शामिल होने के लिए आए।

कार्यक्रम समाप्ति के बाद जब यह दोनों मंच पर पहुंचने लगे तो बडके नेता के हनुमान ने उन्हें बीच में ही रोक लिया। उन्हें अपने तेवर भी दिखाए। तो दोनों लोग मंच से नीचे उतर गए। बाद में दोनों ने बताया कि बडके नेता को उनसे खतरा है ऐसे में वह लोग यहां उनका विरोध करते दिखे, उन्होंने यह भी कहा कि छुटके नेता ने उन्हें धैर्य धरने तथा जयपुर में पार्टी के बडे नेताओं के सामने पार्टी में शामिल होने का आश्वासन दिया है।

कार्यक्रम स्थल पर यह नजारा देख कार्यकर्ता भी इस घटना का यह मतलब निकालने लगे कि छुटके नेता खुद बडा बनने के लिए बडके को अभी से ठिकाने लगाने की कवायद में लग गए हैँ।

दूसरे वार्ड से नहीं लड सकेंगे चुनाव
नगर निकाय चुनावो के प्रभारी गुलाबचंद कटारिया के वक्तव्यों पर विश्वास करें तो अपनी जमीनें खिसकने के बाद दूसरे वार्डों में लडने के इच्छुक स्थापित नेताओं का राजनीतिक भविष्य खतरे में है।

कटारिया ने यहां पत्रकारों को बताया कि भाजपा ने नगर निकाय चुनावों के लिए मापदण्ड तय किए हैँ। इन मापदण्डों पर खरे उतरने पर ही टिकिट दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जो आवेदक जिस वार्ड का है उसी वार्ड से उसे टिकिट दिया जाएगा।

किसी बाहरी वार्ड के व्यक्ति को दूसरे वार्ड में टिकिट नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जो जिस वार्ड का मतदाता है उसी वार्ड से चुनाव लडेगा। यदि ऐसी आवश्यकता पड़ती भी है तो इसके लिए निकायों में बनाई ग ई टीम निर्णय करके प्रस्ताव प्रदेश को भेजेगी और प्रदेश इस पर अंतिम फैसला करेगा। उन्होंने कहा कि चुनाव लडने के इच्छुक सभी कार्यकर्ताओं को आवेदन करने का अधिकार है, जो बेहतर और मापदण्ड पर खरा उतरेगा उसे टिकिट मिलेगा।