जाधव की परिजनों से मुलाकात का तरीका अमानवीय : सुषमा

Inhuman way of meeting Jadhav's kin: Sushma

Inhuman way of meeting Jadhav’s kin: Sushma

नई दिल्ली | विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कुलभूषण जाधव के परिवार के साथ पाकिस्तान में हुए दुर्व्यवहार पर गुरुवार को संसद में बयान देते हुए कहा कि जाधव की उनकी मां व पत्नी के साथ मुलाकात के तरीके को अमानवीय बताया। उन्होंने कहा कि इस मुलाकात में ‘मानवता’ और ”सद्भाव’ का अभाव था। सुषमा ने कहा कि पाकिस्तान ने इसे ‘प्रोपेगेंडा का हथियार’ और ‘स्थिति को भुनाने के अवसर’ के तौर पर पेश किया। सुषमा स्वराज ने इस्लामाबाद में विदेश विभाग में इस मुलाकात के तरीके की निंदा की। उन्होंने जाधव की मां और पत्नी के कपड़े बदलवाने, सुहाग की निशानियों सिंदूर, चूड़ियों और मंगलसूत्र उतरवाने की कड़ी आलोचना की।  स्वराज ने कहा, कुलभूषण जाधव ने अपनी मां के गले में मंगलसूत्र नहीं देखकर पूछा कि बाबा कैसे हैं?

विदेश मंत्री ने कहा, जिस तरह से यह मुलाकात करवाई गई, वह अपमानजनक थी। उनके कपड़े, जूते, चूड़ियां, यहां तक की मंगलसूत्र तक उतरवा लिए गए। उनके मानवधिकारों का बार-बार उल्लंघन किया गया और उनके लिए भय का माहौल बनाया गया। सुषमा ने कहा कि इतनी पीड़ा के बाद एक मां और बेटे की मुलाकात, एक पत्नी और पति की मुलाकात को ‘प्रोपेगेंडा का हथियार’ बना दिया गया

उन्होंने कहा, परिवार ने जाधव से मिलने की इच्छा जताई थी और हमने इसके लिए व्यवस्था की। पाकिस्तान इस माह (दिसंबर) इसके लिए तैयार भी हो गया। यह दोनों देशों के लिए संबंधों को सुधारने की दिशा में एक कदम हो सकता था लेकिन ऐसा नहीं हो सका। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की पत्नी के जूते में चिप, कैमरा, रिकार्डिग डिवाइस होने का हवाला दिया है, जो मूर्खता की पराकाष्ठा है।

देश से जुडी और अधिक खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

आपको यह खबर अच्छी लगे तो SHARE जरुर कीजिये और  FACEBOOK पर PAGE LIKE  कीजिए,  और खबरों के लिए पढते रहे Sabguru News और ख़ास VIDEO के लिए HOT NEWS UPDATE