झारखंड पटाखा फैक्टरी विस्फोट अब तक 10 मरे,जांच टीम गठित

Jharkhand : Explosion at firecracker factory kills 10 people, 25 injured

रांची। झारखंड सरकार ने पूर्वी सिंहभूम जिले में एक अवैध पटाखा कारखाने में हुए विस्फोट के मामले की जांच के लिए सोमवार को दो सदस्यीय टीम गठित की है। इस बीच विस्फोट में मृतकों की संख्या बढ़कर 10 हो गई है।

राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल की एक टीम द्वारा बचाव अभियान चलाया जा रहा है। पूर्वी सिंहभूम जिले में एक घर में विस्फोट होने के बाद एक तीन मंजिला इमारत ढह गई, जहां अवैध रूप से पटाखा बनाने का काम हो रहा था।

सरकारी प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक कोल्हान के आयुक्त और पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) इस घटना की जांच करेंगे। विज्ञप्ति में कहा गया है कि संबंधित पुलिस थाने के प्रभारी अधिकारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। ढही इमारत के मलबे से तीन शव बरामद हुए हैं।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि जिस इमारत में आग लगी, वहां भारी मात्रा में विस्फोटक पाउडर रखा हुआ था।

विस्फोट के कारण लगी भीषण आग की चपेट में आसपास के अन्य घर भी आ गए। घायलों को स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराया गया है और कुछ को उपचार के लिए पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल भेजा गया है।

झारखंड सरकार ने हर मृतक के परिजनों को दो लाख रुपए और हर घायल को 50,000 रुपए देने की घोषणा की है।