गुना में निर्दलीय ने रचा इतिहास, आरोन में भाजपा का कब्जा

election

गुना। नगर पालिका में निर्दलीय उम्मीद्वार राजेन्द्र सिंह सलूजा ने इतिहास रच दिया है। चुनाव में श्री सलूजा ने शानदार जीत दर्ज कराते हुए नगर के प्रथम नागरिक होने का गौरव हासिल किया है। निर्दलीय उम्मीद्वार के रुप में सलूजा पहले नगर पालिका अध्यक्ष होंगे।

सीधे जनता से अध्यक्ष चुने जाने की शुरुआत के बाद दो बार भाजपा और एक बार कांग्रेस के अध्यक्ष बने है। जीत के बाद सलूजा ने अपना विजय जुलूस शहर के प्रमुख मार्गों से निकाला। जिसमें बड़ी संख्या में उनके समर्थकों ने भाग लिया। ढोल-धमाकों के साथ निकाले गए जुलूस के दौरान सलूजा का अनेक स्थानों पर जोरदार स्वागत किया गया।

मतों से भर गया सलूजा का मटका
नगरपालिका में निर्दलीय उम्मीदवार राजेेंद्र सलूजा का चुनाव चिन्ह मटका मतदाताओं ने मतों से भरने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी। श्री सलूजा ने चुनाव में ८ हजार ५७ मतों से विजय श्री हांंसिल की श्री ।सलूजा को कुल 29 हजार 659 मत मिले, जबकि उनके निकटतम उम्मीदवार रहे कांग्रेस के अनिल जैन रुप श्री को 21 हजर 602 मत मिले। चुनाव में भाजपा तीसरे स्थान पर रही और उसके प्रत्याशी आलोक विजयवर्गीय को मात्र 17 हजार 879 मत प्राप्त हुए। चौथे स्थान पर निर्दलीय बसंत शर्मा रहे, जिन्हे 7 हजार 446 मत मिले, वहीं प्रचार के दौरान अपना दमखम दिखाने वाले एक और निर्दलीय उम्मीद्वार महेन्द्र सिंह को महज 2 हजार 966 मतों से संतोष करना पड़ा।

सलूजा के करीब भी नहीं फटक पाया कोई उम्मीद्वार

rajindrasingh saluja
rajindrasingh saluja

चुनाव में निर्दलीय उम्मीद्वार राजेन्द्र सलूजा के कोई उम्मीद्वार करीब भी नहीं फटक पाया। सत्ता और विपक्ष दोनों को पटखनी देते हुए इस सन ऑफ सरदार ने चुनाव में एतिहासिक जीत दर्ज कराई है। ठीक वैसी ही जीत जैसी यह सन ऑफ सरदार 2013 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनशक्ति पार्टी के उम्मीद्वार के रुप में नगाड़ा बजाकर करा चुके है। श्री सलूजा की जीत का सिलसिला डाक मत पत्रों की गिनती के साथ ही शुरु हो गया था। जो चार चरणों की मतगणना तक लगातार, अनवरत बिना रोकटोक के चलता चला गया।

पार्षदों में भारी रही भाजपा

अध्यक्ष के चुनाव में भलें ही भाजपा को तीसरे स्थान पर खिसकना पड़ गया हो और कांग्रेस ने दूसरा स्थान हासिल किया हो, किन्तु पार्षदों में भाजपा, कांग्रेस पर भारी पड़ी है। नगर पालिका में भाजपा के 19 पार्षद विजयी हुए है, जबकि कांग्रेस के १३ और बसपा के एक और निर्दलीय पार्षद जीत कर आए हैं।

 

अभ्यर्थी दल प्राप्त मत

राजेन्द्र सिंह सलूजा निर्दलीय 29659
अनिल जैन (रूप श्री) कांग्रेस 21602
आलोक विजयवर्गीय भाजपा 17879
बसंत शर्मा निर्दलीय 7446
महेन्द्र सिंह निर्दलीय 2966
डॉ. ओमप्रकाश त्रिपाठी बसपा 2549
हमीद खां निर्दलीय 1703
अशोक रजक निर्दलीय 1055
राकेश मिश्रा निर्दलीय 755
राजीव रामचरण सोनी शिवसेना 473
हेमन्त सिंह कुशवाह निर्दलीय 438
मोहम्मद अतीक राईन राकपा 374
विश्वनाथ तिवारी निर्दलीय 354
शाने इस्लाम राईन निर्दलीय 129
नोटा मतपत्रों की संख्या: 661

    वार्डों में ये जीते
वार्ड क्रं. विजयी उम्मीदवार
01 विमलाबाई (भाजपा)
02 सरोजबाई कुशवाह (निर्दलीय)
03 राजेश जैन (भाजपा)
04 अनुसुईया (भाजपा)
05 जामवंती बाई (भाजपा)
06 रघुवीर यादव (कांग्रेस)
07 मुनेश जैन (भाजपा)
08 ब्रजेंद्र राजपूत (कांग्रेस)
09 मिथलेश शर्मा (कांग्रेस)
10 मोना रघुवंशी (भाजपा)
11 राजीव रघुवंशी(कांग्रेस)
12 ब्रजमोहन यादव (भाजपा)
13 कमलाबाई बुनकर (भाजपा)
14 सतीबाई (भाजपा)
15 दौलत खटीक(भाजपा)