दक्षिण अफ्रीका : भारतवंशी मूल की महिला की हत्या में चिकित्सक को उम्रकैद

South African healer gets life term for beheading Indian-origin woman Desiree Murugan in 2014
South African healer gets life term for beheading Indian-origin woman Desiree Murugan in 2014

जोहानिसबर्ग। दक्षिण अफ्रीका के एक चिकित्सक को भारतीय मूल की एक महिला की हत्या में संलिप्तता के लिए उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। इस चिकित्सक ने चार व्यक्तियों को महिला की हत्या कर उसका सिर लाने के लिए 1,50,000 डॉलर से अधिक की सुपारी दी थी।

अधिकारियों ने बताया कि चिकित्सक सिबोनाकलिसो मबिली ने इस हत्या के सह-अभियुक्तों में से एक फलाखे खुमालो को जादू-टोना करने के लिए लंबे बालों वाली एक भारतीय या अश्वेत महिला के सिर लाने के लिए कहा था, जिसके लिए चिकित्सक ने उसे 20 लाख रैंड (1,53,000 डॉलर) की सुपारी दी थी।

यह घटना 2014 की है। खुमालो तीन अन्य आरोपियों थूसो स्टैनली थेलेजाने, लुगिंसी नदलोवू और मबाली मागलवा की मदद से भारतीय मूल की देसीरी मुरुगन को बहलाकर डरबन के चैट्सवर्थ में शैलक्रॉस खेल के मैदान के पास के खेत में लेकर गए, और इसके बाद उसकी निर्मम हत्या कर दी।

तलाकशुदा व एक बच्चे की मां मुरुगन पर आरोपियों ने 192 बार धारदार हथियार से वार किया। इसके बाद उसके सिर को धड़ से अलग कर दिया। खुमालो ने अपना गुनाह कबूल लिया है और उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है।

डरबन उच्च न्यायालय ने इस सप्ताह की शुरुआत में थेलेजाने और नदलोवू को भी 15 साल व मागलवा को 12 साल जेल की सजा सुनाई।

फैसले के बाद मृतका की मां ने कहा कि कोई भी सजा मेरी बेटी को वापस नहीं ला सकती, लेकिन मैं उन लोगों के कठिन परिश्रम की आभारी हूं, जो न्याय दिलाने में शामिल रहे।