ताजिया निकाला, याद की हसन-हुसैन की शहादत

सिरोही में ताजिया निकालते मुस्लिम धर्मावलम्बी
सिरोही में ताजिया निकालते मुस्लिम धर्मावलम्बी

सिरोही। मोहर्रम महीने की दसवी तारीख को सिरोही में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने ताजिया निकाला। शहर भर में घुमाने के बाद ताजिये को करबला में ठंडा किया गया। इस दौरान सिरोही समेत आसपास के मुस्लिम समुदाय के सैंकड़ों लोग आए थे।सरजावाव दरवाजे से दोपहर में मुकाम उठा। यहां से सदर बाजार, नीलवणी चौक, पैलेस रोड, बगगीखाना स्कूल, राठौड लाइन होता यह झालरावाव चौराहे पर पहुंचा।…
4.11.2
यहां पर कुछ देर ठहराव के दौरान अखाड़ा खेला गया। इसी दौरान समुदाय के मौजीज लोगों ने व्यवस्थाओं को चुस्त दुरुस्त रखने में सहयोग करने वालों का समाजबंधुओं ने अभिवादन किया। यहां से ताजिया सरजवाव दरवाजे मुकाम पर ठहरेगा और इमामबाड़ा होते हुए कालका तालाब ले जाया जाएगा। जहां ताजिये को ठंडा किया जाएगा।
इससे पहले मंगलवार रात को कत्ल की रात के रूप में मनाया गया। इसमें इमामबाड़े से ताजिया उठा और शहर के विभिन्न मार्गों से होता हुआ सवेरे करीब चार बजे सरजावाव दरवाजे पहुंचा।