ऐसा क्या हुआ कि शेरनी महक का करना पड़ा ऑपरेशन

सबगुरु न्यूज उदयपुर। उदयपुर के जैविक उद्यान सज्जनगढ़ की शेरनी ‘महक’ (7 वर्ष) का ऑपरेशन मंगलवार को विशेषज्ञ पशु चिकित्सकों की टीम द्वारा किया गया।

उपवन संरक्षक (वन्यजीव) ने बताया कि महक की दायीं आंख में ‘‘चेरी आई’’ (तीसरी पलक की अतिवृद्धि) हो गई थी, जिसकी शल्य चिकित्सा जयपुर जू के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. अरविन्द माथुर के निर्देशन में जोधपुर जू के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. श्रवण सिंह राठौड़ एवं उदयपुर जू के पशु चिकित्सक डॉ. करमेन्द्र प्रताप सिंह ने की।

टीम ने इसका सेम्पल लेकर भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान, बरेली (उत्तरप्रदेश) में ‘‘हिस्टोपेथोलोजिकल’’ जांच के लिए भिजवाया है। ‘महक’ की अभी गहन देखभाल की जा रही है एवं उम्मीद है कि वो अतिशीघ्र स्वस्थ हो जाएगी।

‘महक’ के आंख की शल्य चिकित्सा के दौरान आवश्यक दवाइयां दी गई एवं नसों में तरल पदार्थ पहुंचाया गया। उक्त शल्य प्रक्रिया में 90 मिनट लगे। शल्य प्रक्रिया के पश्चात् शेरनी ‘महक’ बिना किसी जटिलता के स्वस्थ दिखी।