पटरी पर लौटी कार, मोटरसाइकिल की बिक्री

car sales increase in november 2014
car sales increase in november 2014

नई दिल्ली। त्योहारी सीजन भले कार कपंनियों के लिए निराशाजनक रहा हो लेकिन अब सस्ते होते ईधन और महंगाई कम होने से आगे ब्याज दरें घटने की उम्मीद से उत्साहित ग्राहकों की खरीददारी के बल पर इस वर्ष नवंबर में कार और मोटरसाइकिल की बिक्री पटरी पर लौटती दिखी है।

इस महीने में कार बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारूति सुजुकी इंडिया लिमिटेड के साथ ही हुंडई मोटर इंडिया, होंडा कार्स इंडिया, टोयोटा कि र्लोस्कर मोटर और टाटा मोटर्स के वाहनों की बिक्री में जहां तेजी दर्ज की गई वहीं महिंद्रा एंड महिंद्रा के साथ ही फोर्ड इंडिया और जनरल मोटर्स क ी बिक्री में गिरावट दर्ज की गई।

एमएसआई ने जारी बयान में कहा है कि वाहनों की नंवबर में कुल बिक्री 19.5 प्रतिशत बढ़कर एक लाख 10 हजार 147 इकाई पर पहुंच गई है जबकि पिछले साल के इसी माह में यह 92 हजार 140 वाहन रही थी। इस दौरान घरेलू बाजार में उसने 100024 वाहन बेचे हैं जो नवंबर 2013 के 85510 वाहनों के मुकाबले 17 प्रतिशत अधिक है।

हालांकि अल्टो, ए स्टार और वैगन आर जैसी मिनी श्रेणी की कारों की बिक्री में मामूली गिरावट दर्ज की गई है और यह 38040 कार से घटकर 37746 कार पर आ गई है। उसने कहा कि इस दौरान स्विफ्ट, एसिलियो, रित्ज, डिजायर जैसीकाम्पैक्ट श्रेणी की कारों की बिक्री 13.8 प्रतिशत बढ़कर 37339 इकाई पर पहुंच गई है जबकि पिछले वर्ष की समानअवधि में यह 32804 कार रही थी।

कंपनी के निर्यात में 52.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई और यह 6630 वाहन से बढ़कर 10123 वाहन पर पहुंच गई। इस दौरान काम्पैक्ट सेडान डिजायर टूर की बिक्री 604 कार की तुलना में तीन गुना बढ़कर 1989 इकाई पर पहुंच गई। कंपनी की अक्टूबर में पेश हुई मिड साइज सेडान सियाज की बिक्री 5232 कार रही।

यूटिलिटी वाहनों जैसे जिप्सी, ग्रैंड विटारा और अर्टिगा की बिक्री 5840 वाहनों के मुकाबले 5.6 प्रतिशत कम होकर 5515 इकाई पर आ गई है जबकि ओमनी और ईको की बिक्री नवंबर 2013 के 8021 वाहन से 52.1 प्रतिशत बढ़कर 12203 वाहन पर पहुंच गई है। इसी तरह हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड की नवंबर में कुल बिक्री 8.7 प्रतिशत बढ़कर 54011 वाहन पर पहुंच गई है जबकि पिछले वर्ष इसी महीने यह 49681 इकाई रही थी।

घरेलू बाजार में भी उसकी बिक्री में छह प्रतिशत का इजाफा हुआ है और यह 33501 वाहन से बढ़कर 35511 वाहन पर पहुंच गई है। इस दौरान उसने 18500 वाहनों का निर्यात किया जो नवंबर 2013 के 16180 इकाई के मुकाबले 14.7 प्रतिशत अधिक है।

हौंडा कार्स इंडिया लिमिटेड की घरेलू बाजार में बिक्री 64 प्रतिशत बढ़कर 15263 इकाई पर पहुंच गई जबकि पिछले वर्ष नवंबर में यह 9332 वाहन रही थी। इस दौरान राजस्थान के तापुकारा संयंत्र में उत्पादन शुरू होने से उसने मोबिलिया ब्रांड की 3589. अमेज की 3310 और सिटी की 7252 कारें बेची हैं। इस वर्ष के अंत तक उसकी कारों की बिक्री 80163 इकाई के मुकाबले 46 प्रतिशत बढ़कर 116705 कार पर पहुंच गई है।

वाहन बनाने वाली प्रमुख कंपनी टोयोटा किर्लोस्कर मोटर की नवंबर में घरेलू बाजार में बिक्री 19 प्रतिशत बढ़कर 12175 इकाई पर पहुंच गई है जबकि पिछले वर्ष के इसी माह यह 10208 वाहन रही थी। इस दौरान उसने कुल 14134 वाहनों की बिक्री की है जो नवंबर 2013 के 127 48 वाहनों के मुकाबले 11 प्रतिशत अधिक है। इस दौरान कंपनी ने 1959 इटिओस कार का निर्यात किया है। इस दौरान टाटा मोटर्स की निर्यात सहित कुल बिक्री 40863 वाहनों के मुकाबले दो प्रतिशत बढ़कर 41720 वाहन पर पहुंच गई है।

घरेलू बाजार में व्यावसायिक और यात्री वर्ग के वाहनों की बिक्री 37427 इकाई रही। यात्री कारों की बिक्री 10376 इकाई से 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 12021 कार पर पहुंच गई है। महिंद्रा एंड महिंद्रा के यात्री कारों की बिक्री 16771 इकाई की तुलना में 18 प्रतिशत घटकर 13765 कार पर आ गई।

घरेलू बाजार में उसके सभी श्रेणी के वाहनों की बिक्री आठ प्रतिशत कम होकर 32100 इकाई रही जबकि नवंबर 2013 में यह 36261 वाहन रही थी। इसी तरह जनरल मोटर्स इंडिया की बिक्री 6214 वाहन से कम होकर 4157 इकाई पर आ गई। उसने चिली में 150 वाहनों का निर्यात किया। इस दौरान फोर्ड इंडिया की बिक्री 7909 इकाई की तुलना में 28 प्रतिशत गिरकर 5661 वाहन पर आ गई। हालांकि उसका निर्यात भी 12050 वाहन से बढ़कर 12762 इकाई पर पहुंच गया।