तस्करों की कमर तोड़ी, सांचोर और सिरोही में पकड़ा शराब से भरा टैंकर

illegal wine in jalore
police seized illegal wine in jalore

सांचोर (जालोर)। माखूपुरा बॉर्डर पर मंगलवार को जालोर पुलिस की कार्रवाई ने शराब तस्करों की कमर तोड़ दी है। पुलिस ने यहां एक ढाबे पर खड़े टैंकर में से करीब ५९५ पेटी अंग्रेजी शराब की पेटियां बरामद की हैं।…

जानकारी के अनुसार मुखबिर की सूचना मिली कि हरियाणा से एक टैंकर में शराब भरकर गुजरात में चोरी छिपे भेजी जा रही है। सांचौर थानाधिकारी के नेतृत्व में क्षेत्र में सघन जांच अभियान चलाया गया। इस दौरान गुजरात की सीमा से सटे माखूपुरा के एक ढाबे पर एक टैंकर खड़ा मिला। इसकी जांच की तो इसमें शराब भरी हुई मिली। इस कार्रवाई में दो जनों को गिरफ्तार भी किया गया। समाचार लिखे जाने तक कार्रवाई जारी थी। यह ट्रक माखूपुरा से होता हुआ गुजरात के नैनावा में घुसने की फिराक में था।

इधर, सिरोही पुलिस ने सोमवार देर रात एक बड़ी कार्यवाही करते हुए तस्करी कर गुजरात ले जाई  जा रही अंग्रेजी शराब की बड़ी खेंप पकड़ी है  ये शराब एक ट्रेलर में पकड़ी गयी है  जानकारी के मुताबिक सिरोही के बाहरी घाटा के नजदीक से देर रात पुलिस  ने ट्रक को  बरामद किया है जिसमे से 1147 अंग्रेजी शराब के कार्टून भी बरामद हुए है पुलिस ने  बरामद ट्रेलर (ट्रक) को जब्त कर लिया है

शराब तस्करों का पसंदीदा रास्ता
राज्य का सिरोही और जालोर जिला गुजरात में शराब पहुंचाने के लिए शराब तस्करों को पसंदीदा रास्ता बना हुआ है। हरियाणा से राज्य की सीमा में घुसकर कई थानाक्षेत्रों को पार करता हुआ यह टैंकर जालोर के बॉर्डर तक पहुंच गया, लेकिन इन रास्तों पर पडऩे वाले किसी थानें में यह पकड़ा नहीं जा सका। निस्संदेह यह जालोर पुलिस की बड़ी कार्रवाई है, लेकिन जालोर जिले में प्रवेश के बाद भी यह टैंकर जिले के कई थानों को पार कर गया और उन थानों की पुलिस इसे पकड़ नहीं पाई। यह लापरवाही भी जिले के बाकी थाना क्षेत्रों पर सवालिया निशान लगाती है।

बड़ी मछलियां नहीं आती हाथ
शराब तस्करी के लिए सिरोही भी तस्करों का एक प्रमुख वैकल्पिक मार्ग है। जिला पुलिस ने पिछले कई सालों में बड़ी कार्रवाइयां करते हुए शराब की बड़ी खेप भी पकड़ी, लेकिन  यह भी सच है कि जिला पुलिस बड़े तस्करों तक नहीं पहुंच पाई। दो महीने पहले रोहिड़ा थाना क्षेत्र में एक क्रशर में पुलिस ने शराब की बड़ी खेप बरामद की थी। इसमें आबूरोड, हरियाणा और गुजरात के कई आरोपियों को पकड़ा भी गया था। इसके बावजूद सिरोही पुलिस गुजरात में शराब की खेप लेने वालों और हरियाणा में शराब भेजने वालों तक नहंी पहुंच पाई। यह तथ्य भी जगजाहिर है कि शराब तस्करी के इसी तरह के एक मामले में आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंचे सिरोही पुलिस के एक कांस्टेबल को करीब चार साल पहले चंडीगढ़ सीबीआई ने कथित शराब तस्कर के आरोपी से रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था।