महंत सुंदरदास महाराज पर शिष्या ने दर्ज कराया छेड़खानी का केस

self styled godman sundardas booked for molesting woman in delhi
self styled godman sundardas booked for molesting woman in delhi

जोधपुर/नई दिल्ली। दिल्ली में एक महंत पर उसकी ही शिष्या ने छेड़खानी का केस दर्ज कराया है। घटना सब्ज़ी मंडी इलाके में महंत सुन्दरदास जी महाराज के आश्रम की है।

पीड़ित महिला ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में बताया है कि वह अपनी मां के साथ महंत के आश्रम में सत्संग के लिए आया करती थी। महंत सुदंरदास ने ही पीड़िता की दूसरी शादी अपने एक भक्त से करवाई थी। वह और उसका पति दोनों महंत के सत्संग के लिए आश्रम आते थे और वहां रहा करते थे।

आरोपों के मुताबिक 2014 में महंत जब आश्रम में थे उस दौरान वो महिला को अपने कमरे में बुलाता था और उसके साथ अश्लील हरकतें किया करता था। पीड़िता के मुताबिक उसकी सास और देवरानी भी जबरन उसे महंत के कमरे में भेजा करते थे।

पीड़िता ने इस बात की शिकायत अपने पति से की। जब दोनों ने महंत की इन हरकतों का विरोध किया तो उन्हें डराया धमकाया गया, जिसके बाद से उन्होंने आश्रम में जाना छोड़ दिया। 2 अक्टूबर 2017 को महिला की शिकायत के आधार पर पुलिस ने छेड़खानी का केस दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

बतादें कि मंहत सुन्दरदास का जोधपुर में भी एक आश्रम है। पुलिस ने महिला की शिकायत के आधार पर छेड़खानी का मामला दर्ज किया था। कोर्ट में मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान में पीड़ित महिला ने रेप की बात कही है, पुलिस फिलहाल जांच कर रही है। जांच के आधार पर रेप की धाराओं को भी जोड़ा जा सकता है। फिलहाल मामला छेड़खानी का ही दर्ज है।

पीड़ित महिला का पति फिलहाल जेल में है। महिला की सौतेली बेटियों ने अपने पिता पर रेप का आरोप लगाया था जिसमें उस पर पोस्को एक्ट के तहत रेप की एफआईआर दर्ज हुई थी।

रामचौकी आश्रम के महंत सुंदरदास पर उनकी एक शिष्या ने छेडछाड और दुष्कर्म का आरोप लगाया है। जोधपुर से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित यह आश्रम आमजन के लिए हमेशा से रहस्य बना हुआ है। इस आश्रम में सिर्फ महंत के शिष्यों को ही प्रवेश मिलता है।

शाही लाइफ स्टाइल, निजी प्लेन का मालिक

इस आश्रम के गादीपति महंत सुंदरदास अपनी शाही लाइफ स्टाइल के कारण हमेशा लोगों के बीच चर्चित रहा है। करोड़ों की सम्पति के मालिक ये महंत दो करोड़ रुपए के हीरों का हार पहनते है और करोड़ों रुपयों की 30 कारों का मालिक है। महंत कही भी अपने निजी हवाई जहाज से आते-जाते हैं। मूल रूप से बीकानेर निवासी कई बरस से इस आश्रम के गादीपति है और अपने समर्थकों में दाता के नाम से पहचाने जाते है। इस आश्रम के पास करोड़ों की अकूत सम्पदा है। आश्रम के नियम बड़े सख्त है। समर्थकों के सिवाय किसी को आश्रम में जाने की अनुमति नहीं मिलती।

क्या है मामला

उत्तर दिल्ली के सब्जी मंडी थाने की पुलिस के मुताबिक महंत सुंदरदास का इसी इलाके में एक आश्रम है। पीडिता ने अपनी रिपोर्ट ने बताया कि उसका पूरा परिवार महंत का भक्त है और उनके आश्रम में आना-जाना है। 17 मई को वह आश्रम गई थी। जहां महंत ने उसके साथ रेप कर परिजनों को बताने पर जाने से मारने की धमकी दी।

आश्रम से निकल वह घर पहुंची और पति को जानकारी दी। इस पर उसके पति ने पहले रूपनगर थाने में शिकायत दी, लेकिन घटनास्थल इस थाना क्षेत्र में नहीं होने के कारण मामला दर्ज नहीं हुआ। फिर उन्होंने सब्जी मंडी थाने में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने मजिस्ट्रेट के सामने महंत द्वारा रेप की बात कही। विक्टिम के बयान होने के बाद पुलिस ने केस दर्ज कर लिया।

पीड़िता की सौतेली बेटियों ने पिता पर लगाया रेप का आरोप

महंत पर केस दर्ज होने के बाद पीडिता की दो सौतेली नाबालिग बेटियों ने अपने ही पिता पर रेप का आरोप लगाया। जिसमें उनकी मां भी पिता का साथ देती थी। पुलिस ने दोनों के खिलाफ पॉक्सो में मामला दर्ज कर जांच शुरू की। फिर पिता को अरेस्ट कर जेल भेज दिया। पीडिता का आरोप है कि यह मुकदमा झूठा है, जिसे महंत के इशारे पर दर्ज किया गया।