सिरोही, शिवगंज, पिण्डवाडा, माउण्ट आबू में भाजपा के अध्यक्ष

 

state minister otaram devasi and bjp district president with newly elected chairperson tararam mali
state minister otaram devasi and bjp district president with newly elected chairperson tararam mali

सिरोही। सिरोही जिले की सिरोही नगर परिषद के साथ शिवगंज, पिण्डवाडा और माउण्ट आबू नगर पालिका में भाजपा के निकाय प्रमुख बने है।

7
माउण्ट आबू और पिण्डवाडा नगर पालिका में भाजपा के पार्षद पहले ही निर्विरोध निर्वाचित हो चुके हैं। माउण्ट आबू में सुरेश थिंगर तो पिण्डवाडा में खुशबु पुरोहित पहले ही निर्विरोध पालिकाध्यक्ष निर्वाचित हो गए थे, सिरोही नगर परिषद और शिवगंज नगर पालिका के लिए मतदान करवाया गया।

3

सिरोही नगर परिषद में भाजपा के प्रत्याशी ताराराम माली थे, वहीं कांग्रेस प्रत्याशी महेन्द्र मेवाडा। ढाई बजे मतदान शुरू होने के बाद सबसे पहले महेन्द्र मेवाडा के साथ कांग्रेस के आठ पार्षद मतदान के लिए आए। इसके बाद करीब साढे तीन बजे ताराराम माली के साथ धनपतसिंह राठौड नगर परिषद पहुंचे। इसके बाद तीन-तीन चार-चार के समूह में भाजपा के पार्षद और निर्दलीय नगर परिषद में पहुंचते रहे। सबसे अंत में करीब पौने पांच बजे तीन पार्षदों ने पहुंचकर मतदान किया तो मतों की गिनती शुरू हुई।

2

मतगणना में ताराराम माली को 15 और महेन्द्र मेवाडा को 9 वोट मिले। एक मत खारिज किया गया। घोषणा के बाद से ही नगर परिषद के दरवाजे पर आतिशबाजियां होने लगी। अंदर राज्यमंत्री ओटाराम देवासी, जिलाध्यक्ष लुम्बाराम चैधरी ने जब परिणाम सुना तो नगर परिषद की छत से विजय मुद्रा में लोगों के बीच जीत का संदेश दिया। जीत के बाद नए सभापति ताराराम माली को रिटर्निंग अधिकारी ओमप्रकाश विश्नोई ने शपथ दिलवाई। इस दौरान अशोक पुरोहित, सुरेश सगरवंशी, विरेन्द्रसिंह चैहान, रघुनाथ माली, प्रकाश बी माली आदि मौजूद थे। तारा भंडारी, सुरेश कोठारी, नारायण पुरोहित, बाबुभाई पटेल आदि ने नगर परिषद पहुंचकर माली को बधाई दी.

6

उधर, शिवगंज नगर पालिका में कंचन सोलंकी भाजपा की अधिकृत प्रत्याशी थी और पुष्पा कांग्रेस की। यहां पर मतदान के बाद भाजपा को 19 और कांग्रेस प्रत्याशी को पांच मत मिले। रिटर्निंग अधिकारी ने भाजपा की प्रत्याशी कंचन सोलंकी को विजय घोषित किया। एक निर्दलीय पार्षद झंकारसिंह ने मतदान नहीं किया। यहा कोंग्रेस के 6 प्रत्याशी जीते थे, ऐसे मे यहा क्रोस्स वोटिंग की अशंका भी जताई जा रही थी